Data Communication in Hindi

Introduction to Data Communication in Hindi

Communication का अर्थ संदेशो का आदान-प्रदान करना होता है। जब भी दो व्यक्ति आपस में बातचीत करते है तो वे Communication करते है और अपनी बात एक-दूसरे तक पहुँचाते है। इसी प्रकार Data Communication का अर्थ दो Device के बीच डेटा व सूचनाओं का आदान-प्रदान करना होता है। आज दुनिया भर में जितनी भी डेटा व सूचनाएँ है वे सभी किसी न किसी कम्प्यूटर में ही संग्रहीत है। किन्तु ये डेटा व सूचनाएँ हमारे लिए तब तक उपयोगी नहीं हो सकती है जब तक कि इनका आदान-प्रदान न किया जाए। इसीलिए इन डेटा व सूचनाएँ के आदान-प्रदान के लिए बहुत सारे सिस्टम बनाए गए है जिन्हें Communication System कहते है। रेडियो, टीवी, टेलीफोन, मोबाईल, इंटरनेट आदि वर्तमान के महत्वपूर्ण Communication System है। विभिन्न प्रकार के कम्प्यूटर नेटवर्को के बारे में जानने के लिए देखें—Computer Networks and its Types. किसी भी Communication System में निम्नलिखित पाँच Components होते है—

  1. Message
  2. Sender
  3. Medium
  4. Receiver
  5. Protocol

Message

Message भेजे जाने वाले डेटा व सूचनाओं को कहते है। ये Text, Image, Audio, Video आदि के रूप में हो सकते है।

Sender

Sender उस Device को कहते है जिससे Message को भेजा जाता है। यह सामान्यतः कोई कम्प्यूटर होता है।

Medium

Medium वह माध्यम या मार्ग होता है जिसके द्वारा Message को Sender से Receiver तक ले जाया जाता है। इसे Communication Media या Transmission Media भी कहा जाता है। यह Wired या Wireless दोनों हो सकता है। विभिन्न प्रकार के Communication Media के बारे में जानने के लिए देखें—Communication Media and its Types

Receiver

Receiver उस Device को कहते है जिसमें Message को प्राप्त किया जाता है। यह भी सामान्यतः कोई कम्प्यूटर होता है।

Protocol

Protocol नियमों एवं प्रक्रियाओं के समूह को कहते है जिन्हें सफलतापूर्वक Communication करने के लिए प्रत्येक कम्प्यूटर को Follow करना पड़ता है। सबसे प्रमुख प्रोटोकाल TCP/IP (Transmission Control Protocol / Internet Protocol) होता है।

Data Communication System notes in Hindi
Communication System

I-Facts (Interesting facts about Data Communication)

Smoke Signal and Drums: प्राचीन काल में दूरसंचार के लिए धूँए के सिग्नल और ढ़ोल नंगाड़ो का प्रयोग किया जाता था। इसे दूरसंचार का सबसे पुराना माध्यम माना जाता है जिसकी सहायता से समाचार भेजना, लोगो को इकट्ठा करना और किसी प्रकार के खत्रे की सूचना देने का काम किया जाता था। इसके बाद मानव द्वारा विकसित किए गए कुछ महत्वपूर्ण Communication Systems निम्नलिखित है—

  1. Telegraph: Telegraph का विकास सन् 1830-40 में Samuel Morse ने किया था।
  2. Telephone: Telephone का अविष्कार Alexandar Graham Bell ने सन् 1876 में किया था।
  3. Radio: Radio का अविष्कार सन् 1901 में Guglielmo Marconi ने किया था।
  4. Television:Television का अविष्कार John Logie bared ने सन् 1926 में किया था।
  5. Cellphone: Cellphone का अविष्कार सन् 1973 में Martin Cooper ने किया था।
  6. Internet: इंटरनेट अब तक का मनुष्य के द्वारा बनाया गया सबसे बड़ा Communication System है। यह एक विश्वव्यापी नेटवर्को का नेटवर्क है। प्रोफेसर J.C.Licklider ने दुनिया के सबसे पहले नेटवर्क ARPANET के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया। इन्हें Father of Internet कहा जाता है।
  7. Networking and Inter Networking Device के बारे में जानने के लिए देखें—Connecting Devices (Networking & Internetworking)
Share it to: