New Features of MS Office 2007 in Hindi

New Features of MS Office 2007 in Hindi

MS – Office 2007 के बारे में और अधिक जानने के लिए देखें—Introduction to MS-Office 2007

MS-Office 2007 में इसके पुराने Versions की तुलना में बहुत से परिवर्तन किए गए है और नए Features को जोड़ा गया है। इसमें पूर्णतः नए Graphical User Interface का प्रयोग किया गया है जिससे कार्य बहुत आसानी से और तेज गति से होते है। इसीलिए इसे Fluent User Interface भी कहा जाता है। इसके अतिरिक्त इसमें बहुत से नए File Formats, Smartarts, Collaboration System को भी जोड़ा गया है। इसके महत्वपूर्ण Features निम्नलिखित है—

New Features of MS Office 2007 in Hindi

Office Button

Office 2007 में इसके पुराने Versions के फाईल मेनू को हटाकर Office Button को लाया गया है। इसके अंतर्गत New, Open, Save, Print जैसे महत्वपूर्ण कमांड आते है। साथ ही इसके Word Option विकल्प का प्रयोग करके हम साफ्टवेयर की सेटिंग को बदल सकते है।

Quick Access Toolbar

यह आफिस बटन के बगल में स्थित Tools का समूह होता है। इसमें सामान्यतः ऐसे Tools को रखा जाता है जिनकी जरूरत हमें बार-बार पड़ती रहती है।

MS Windows Operating System Software के बारे में जानने के लिए देखें—Introduction to MS-Windows

Ribbon Bar

Ribbon एक ऐसा Panel है जिसमें वर्ड के सभी Tools या Options उपस्थित होते है। दूसरे शब्दों में हम जिस भी मेनू में क्लिक करते है उसके अंतर्गत आने वाले सभी विकल्प रिबन में ही दिखाई देते है।

Contextual Tab

ये ऐसे Tab या Menu होते है जो किसी विशेष परिस्थिति में अपने आप खुल जाते है। इसके अंतर्गत विशेष कार्य से संबंधित विकल्पों को रखा जाता है। उदाहरण के लिए जब हम वर्ड में कोई Picture Insert करते है तो Picture Tools (Format) नाम से एक Contextual Tab खुल जाता है।

Mini Toolbar

Mini Toolbar एक छोटा सा टूलबार होता है जो वर्ड डाक्यूमेंट के Editing Area में ही प्रदर्शित होता है। इसमें कुछ Basic Formating Features होते है। उदाहरण के लिए जब हम डाक्यूमेंट में Text को सलेक्ट करते है तो उसी स्थान पर एक Mini Toolbar खुल जाता है।

Smartarts

Smartart किसी विशेष प्रकार के सूचनाओं एवं प्रक्रियाओं को प्रदर्शित करने के लिए पहले से बने हुए Diagrams होते है। Office 2007 में स्मार्टआर्ट एक नया Feature है। इसके अंतर्गत 100 से अधिक स्मार्टआर्ट उपलब्ध है।

New File Formats

Office 2007 में नए File Format को भी लागू किया गया है जिसका नाम Office Open XML है। इसमें फाईल के Extension Name के अंत में .x लिखा जाता है जैसे—.docx, .xlsx, .pptx आदि। साथ ही इसमें बनाए गए डाक्यूमेंट को PDF, XML आदि में Export भी किया जा सकता है।

Collaboration Features

Office 2007 में एक साथ कार्य करने के लिए Collaborative Applications भी उपलब्ध है। उदाहरण के लिए इसमें SharePoint, OneNote, Groove आदि की सहायता से बहुत सारे उपयोगकर्ता एकसाथ मिलकर कार्य कर सकते है।

I-Facts (Interesting facts about features of MS Office)

  1. OLE – Object Linking and Embedding एक ऐसा Feature है जिसकी सहायता से हम किसी दूसरे Appication में बनाए गए File को अपने वर्तमान Document में ला सकते है।
  2. दूसरे Application के File को अपने वर्तमान Document में लाना Embedding तथा तथा Original File के साथ Embedded File का Link बनाना Linking कहलाता है। Link बनाने से Original File में किया गया परिवर्तन Embedded File में भी स्वतः हो जाता है।
  3. MS – Office का इतिहास और उसके पूर्व के Versions के बारे में अधिक जानने के लिए देखें—History and Versions of MS-Office
Share it to:

Accounting Software Tally ERP 9 notes in Hindi

What is Accounting Software Tally ERP 9 in Hindi

Accounting साफ्टवेयर ऐसा साफ्टवेयर होता है जिसकी सहायता से हम Manual किए जाने वाले अकाउंटिंग कार्य को Electronic विधि से बहुत ही आसानी से कर सकते है। सामान्यतः अकाउंटिंग का कार्य बिजनेस में होने वाले Transactions से प्रारंभ होकर विभिन्न प्रकार के रिपोर्ट बनाने तक चलता है। इस दौरान Transactions की एंट्री की जाती है तथा Trail Balance, Trading A/c, Profit & Loss A/c, Balance Sheet आदि रिपोर्ट बनाए जाते है जिससे हमें व्यापार में होने वाले लाभ-हानि का पता चलता है।

साफ्टवेयर क्या होता है इसके कितने प्रकार होते है विस्तार से जानने के लिए देखें—Software and its Types

किन्तु ये सभी कार्य Manual तरीके से करना बहुत ही कठीन होता है इसीलिए आज सभी प्रकार के बिजनेस अकाउंटिंग के लिए किसी न किसी अकाउंटिंग साफ्टवेयर का ही प्रयोग करते है। अकाउंटिंग साफ्टवेयर की मदद से अकाउंटिंग का कार्य बहुत ही आसान हो जाता है क्योंकि हमें इसमें केवल Transactions की एंट्री करनी होती है फिर बाकी सभी प्रकार के रिपोर्ट साफ्टवेयर स्वयं ही तैयार लेता है। इसका प्रयोग पूरे बिजनेस का हिसाब-किताब रखने, बिल बनाने, टैक्स व लाभ-हानि की गणना करने आदि के लिए किया जाता है। उदाहरण—Tally ERP 9

Starting Tally ERP9: Tally ERP9 को Start करने के निम्नलिखित दो प्रमुख तरीके होते है—

  1. Start -> All Programs -> Tally ERP 9
  2. Windows -> Tally -> Enter
  3. Double Click Tally ERP9 Icon on Desktop
Accounting Software Tally notes in Hindi
Fig. Tally ERP 9

I-Facts (Interesting facts about Accounting Software Tally in Hindi)

  1. Tally Accounting Software का विकास भारत की बैंगलोर स्थित कम्पनी Tally Solution Private Limited द्वारा किया गया है।
  2. Tally ERP9 टैली साफ्टवेयर का New Version है। यहाँ ERP से तात्पर्य Enterprise Resource Planningसे है। इस साफ्टवेयर का प्रयोग बड़े आकार के बिजनेस में Accounting के किया जाता है।
  3. Busy एक Business Accounting Software है जिसका विकास Busy Infotech Private Limited Delhi द्वारा किया गया है। इसका प्रयोग अधिकतर छोटे एवं मध्यम आकार के बिजनेस के लिए किया जाता है।
  4. Email Client Program क्या होता है जानने के लिए देखें—Email Client MS-Outlook
Share it to:

Web Browser Software notes in Hindi

What is Web Browser Software in Hindi

Browser वे साफ्टवेयर होते है जिनकी सहायता से हम अपने कम्प्यूटर पर इंटरनेट व वेब का प्रयोग करते है। ब्राउजर के द्वारा ही हम इंटरनेट पर विभिन्न वेबसाईट एवं उनमें उपस्थित सूचना तक पहुँच पाते है। इसका प्रमुख कार्य HTML Document को पढ़ना और उसके अनुसार वेबपेज को प्रदर्शित करना होता है। प्रत्येक ब्राउजर में एक Text Field या Search Box होता है जिसमें हम उस वेबसाईट का नाम जिसे Domain Name कहते है लिखकर सर्च करते है जिसे हम खोलना चाहते है।

Email Client Software क्या होता है इसकी सहयता से ईमेल को कैसे मैनेज करते है जानने के लिए देखें—Email Client MS-Outlook

उदाहरण के लिए गूगल का वेबसाईट खोलने के लिए www.google.com लिखकर सर्च करना पड़ेगा जिससे गूगल का वेबसाईट एक ही बार में हमारे कम्प्यूटर में खुल जायेगा।  किन्तु यदि हमें वेबसाईट का पूरा नाम नहीं पता है तो उससे संबंधित Keywords लिखकर सर्च करते है जिससे लाखों-करोड़ो की संख्या में परीणाम प्राप्त होते है।

आपरेटिंग सिस्टम साफ्टवेयर क्या होता है और यह कितने प्रकार का होता है जानने के लिए देखें—OS: Operating System Software

प्रत्येक ब्राउजर वेब पर सर्च करने के लिए किसी न किसी सर्च इंजन का प्रयोग करता है जैसे कि Google Chrome एक प्रसिद्ध ब्राउजर है जिसे गूगल कंपनी ने बनाया है और इसमें सर्च करने के लिए Google Search Engine का प्रयोग किया जाता है। इसी प्रकार Internet Explorer माइक्रोसाफ्ट कम्पनी के द्वारा बनाया गया एक प्रसिद्ध ब्राउजर है और इसमें सर्च करने के लिए Bing Search Engine का प्रयोग किया जाता है। इसके अलावा Mozilla FireFox, Safari, Opera आदि ब्राउजर भी बाजार में उपलब्ध है। इन सभी ब्राउजरों को Client प्रोग्राम भी कहा जाता है।

Starting a Browser: Web Browser Google Chrome को Start करने के निम्नलिखित तीन प्रमुख तरीके होते है—

  1. Start -> All Programs -> Google Chrome
  2. Windows -> Chrome -> Enter
  3. Double Click Google Chrome Icon on Desktop
Web Browser notes in Hindi
Fig. Google Chrome and Internet Explorer

I-Facts (Interesting facts about Web Browsers in Hindi)

  1. Search Engine का कार्य यूजर द्वारा Type किए गए Keywords के अनुसार Web से Webpages को सर्च करके निकालना होता है।
  2. Web Browser का कार्य इन Webpages को पढ़ना और इनमें उपलब्ध सूचनाओं को यूजर के समक्ष प्रस्तुत करना होता है।
  3. दुनिया के सबसे पहले Search Engine का नाम Archie था जिसे Alan Emtage से सन् 1990 में बनाया था।
  4. दुनिया के सबसे पहले Web Browser का नाम WorldWideWeb था जिसे Tim Berners Lee ने सन् 1990 में बनाया था। इसका नाम बदलकर बाद में Nexus रख दिया गया।
  5. World Wide Web (WWW) के अविष्कार का श्रेय भी Tim Berners Lee को ही जाता है इन्होनें ही दुनिया के सबसे पहले वेबसाइट info.cern.ch का निर्माण किया था।
  6. दुनिया का सबसे पहला Graphical User Interface (GUI) पर आधारित वेब ब्राउजर Mosaic था।
  7. कुछ प्रमुख Search Engines है— Google, Bing, Yahoo, Baidu, Altavista, AOL, Ask, Excite, Duckduckgo, Wolframalpha, Yandex, Lycos, Chacha, Mamma, Dogpile, Hotbot, Khoj etc.
  8. कुछ प्रमुख Web Browsers है— Chrome, FireFox, Edge, Internet Explorer, Safari, Opera, SeaMonkey, Maxthon, Vivaldi, GNU IceCat, Comodo Dragon, Comodo IceDragon, Chromium, Dooble, UC Browser, Netscape, Mosaic, Yandex etc.
  9. Accounting Software Tally ERP9 के बारे में जानने के लिए देखें—Accounting Software Tally ERP 9
Share it to:

Introduction to MS Office 2007 Notes in Hindi

Introduction to MS Office 2007 in Hindi

MS-Office 2007 के विभिन्न नए Features को जानने के लिए देखें—New Features of MS-Office 2007

MS-Windows 7 साफ्टवेयर बनाने वाली विश्व की सबसे बड़ी कम्पनी Microsoft के द्वारा बनाया गया एक PC-Package या Office Suite है। इसे सन् 2007 में रिलिज किया गया था। यह दुनिया का सर्वश्रेष्ठ Office Suite है जिससे Official Works को करना बहुत आसान हो जाता है। किसी भी Office में विभिन्न प्रकार के कार्य किए जाते है जिसको करने के लिए इस Suite में अलग-अलग Software उपलब्ध है।

MS-Office के History and Versions को जानने के लिए देखें—History and Versions of MS-Office

उदाहरण के लिए पत्र लिखने के लिए Word, डेटा एंट्री कर उस पर गणना व रिपोर्ट बनाने के लिए Excel, प्रेजेंटेशन तैयार करने के लिए Powerpoint आदि। MS-Office 2007 भी अलग-अलग जरूरतों के अनुसार अलग-अलग Flavors में उपलब्ध है जैसे—Basic, Home, Student, Standard, Small Business, Professional, Professional Plus, Enterprise, Ultimate. इसे चलाने के लिए कम से कम निम्नलिखित सिस्टम की आवश्यकता होती है—

 OS                   -              Windows XP SP2 or Later
 Processor            -              500 MHz 
 RAM                  -              256 MB
 Hard Disk            -              2 GB 
MS Office 2007 Notes in Hindi
Fig. MS Office 2007 Logo

I-Facts (Interesting facts about Microsoft Office 2007)

  1. MS-Office 2007 ऐसा पहला Version है जिसमें पारंपरिक Menu System को हटाकर नया Interface लाया गया जिसे Ribbon System या Fluent User Interface कहते है। इसमें File Menu को Office Button से Replace कर दिया गया।
  2. MS-Office 2007 के साथ तीन नए Application रिलिज किए गए जो है— MS-Groove, MS-OneNote व Visio Viewer.
  3. MS-Groove एक Document Collaboration Application है जिसकी सहायता से एक से अधिक व्यक्ति अलग-अलग कम्प्यूटर का प्रयोग करते हुए किसी Document को Share करके उस पर कार्य कर सकते है। इसे वर्तमान में MS-SharePoint के नाम से जाना जाता है।
  4. MS-OneNote एक Information Gathering और Collaboration Application है। इसकी सहायता से विभिन्न Users के द्वारा बनाए गए Files को इकट्ठा करके उसे इंटरनेट या नेटवर्क पर Share किया जाता है।
  5. Visio Viewer एक ऐसा Application है जिसकी सहायता से MS-Visio के द्वारा बनाए Files को देखा जाता है। MS-Visio एक ऐसा प्रोग्राम है जिसकी सहायता से Drawings व Diagrams बनाए जाते है। जैसे—Electrical Drawings, Network Drawings आदि।
  6. MS-Windows के बारे में जानने के लिए देखें—Introduction to MS-Windows
Share it to:

History and Versions of MS Office in Hindi

History and Versions of MS Office in Hindi

MS – Office या Software Suite या PC – Package क्या होता है जानने के लिए हमारा यह पोस्ट देखें—Introduction to Microsoft Office

MS-Office को सर्वप्रथम Bill Gates के द्वारा सन् 1988 में Las Vegas के COMDEX में Announce किया गया था। इसके बाद इसका Mac OS के लिए सबसे पहला Version सन् 1989 में रिलिज किया गया था जिसमें Word, Excel, Powerpoint व Mail ये चार साफ्टवेयर शामिल थे। इसी प्रकार इसका Windows OS के लिए सबसे पहला Version MS-Office 1.0 को सन् 1990 में रिलिज किया गया था जिसमें Word, Excel व Powerpoint ये तीन साफ्टवेयर शामिल थे।

इसके बाद इसको निरन्तर Update किया गया और समय-समय पर इसके नए Versions रिलिज किए गए। इसके नए Versions में नए कार्यो के लिए साफ्टवेयर की संख्या भी बढ़ती गयी। Windows के लिए MS-Office के निम्नलिखित Versions रिलिज किए गए है—

History and Versions of MS Office in Hindi
Fig. Versions of MS-Office for Windows

I-Facts (Interesting facts about History and Version of MS-Office)

  1. MS-Office के सबसे पहले Version MS-Office 1.0 को सन् 1990 में रिलिज किया गया था जिसमें Word, Excel व Powerpoint ये तीन साफ्टवेयर शामिल थे।
  2. MS-Access को पहली बार MS-Office 4.3 Version के साथ सन् 1994 में रिलिज किया गया था।
  3. MS-Outlook (Email Client), MS-FrontPage (WYSIWYG HTML editor) और MS-Publisher (DTP Application) को MS-Office 2000 के साथ पहली बार सन् 2000 में रिलिज किया गया था।
  4. MS-InfoPath को पहली बार सन् 2003 में Office 2003 के साथ रिलिज किया गया था। इसका प्रयोग Form Designing, Form Filling and Submitting आदि कार्यो के लिए किया जाता है।
  5. MS-Office 2007 ऐसा पहला Version है जिसमें पारंपरिक Menu System को हटाकर नया Interface लाया गया जिसे Ribbon System या Fluent User Interface कहते है। इसमें File Menu को Office Button से Replace कर दिया गया।
  6. MS – Windows या Operating System Software क्या होता है? और यह हमारे कम्प्यूटर के लिए क्यों जरूरी होता है जानने के लिए देखें—Introduction to MS-Windows
Share it to:

Email Client MS-Outlook Notes in Hindi

What is Email Client Program MS Outlook in Hindi

Email Client ऐसा साफ्टवेयर होता है जो हमारे Emails को मैनेज करने का कार्य करता है। यह Email बनाने, Email भेजने व प्राप्त करने से लेकर उसे पढ़ने में हमारी मदद करता है। हम अपने किसी भी Email Account को Email Client साफ्टवेयर से कनेक्ट कर सकते है और प्रभावशाली तरीके से अपने Emails को मैनज कर सकते है।

डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम साफ्टवेयर क्या होता है इसका प्रयोग कहाँ किया जाता है जानने के लिए देखें—DBMS MS-Access

इसमें बहुत सारे और भी उपयोगी Tools होते है जिसकी सहायता से न केवल Emails बल्कि Contacts, Tasks एवं Calendar आदि को भी मैनेज किया जा सकता है। यदि हमें अपने कम्प्यूटर से किसी फाईल को सीधे ही Email करना है या Mail Merge के द्वारा Email करना है तो इसके लिए कम्प्यूटर में किसी Email Client का Install व Configure होना अनिवार्य है। उदाहरण—MS-Outlook

Starting MS-Outlook: MS-Outlook को Start करने के निम्नलिखित तीन प्रमुख तरीके होते है—

  1. Start -> All Programs -> Microsoft Office -> Microsoft Office Outlook
  2. Windows + R -> Outlook -> Enter
  3. Windows -> Outlook -> Enter
Email Client MS-Outlook Notes in Hindi
Fig. Email Client MS-Outlook

I-Facts (Interesting facts about Email Client Program MS Outlook in Hindi)

  1. Email Client को Email Reader या Mail User Agent (MUA) भी कहा जाता है।
  2. Email Client तक Email Mail Service Provider के सर्वर से उनके Mail Transfer Agent (MTA) द्वारा लायी जाती है।
  3. Email Client से Email इसके Mail Submission Agent (MSA) के द्वारा Mail Service Provider के सर्वर तक पहुँचायी जाती है।
  4. Microsoft Outlook, Mozilla Thunderbird, तथा IBM Notes डेस्कटाप कम्प्यूटर के लिए प्रसिद्ध Email Client साफ्टवेयर है।
  5. Gmail App, Yahoo App, Outlook App मोबाईल डिवाईसों के लिए प्रसिद्ध Email Client साफ्टवेयर है।
  6. Gmail, Yahoo Mail और Rediff Mail विश्वप्रसिद्ध वेब आधारित मुफ्त Email सेवाएँ है।
  7. सामान्तः Email भेजने के लिए Simple Mail Transfer Protocol (SMTP) का प्रयोग किया जाता है तथा Email Message को मेल सर्वर से डाउनलोड करने के लिए Post Office Protocol 3 (POP3) या Internet Message Access Protocol (IMAP) का प्रयोग किया जाता है।
  8. Presentation Software MS-Powerpoint क्या होता है जानने के लिए देखें—Presentation MS-Powerpoint
Share it to:

DBMS Software MS Access Notes in Hindi

DBMS Software MS Access Notes in Hindi

Electronic Spreadsheet साफ्टवेयर क्या होता है यह Database साफ्टवेयर से किस प्रकार भिन्न होता है जानने के लिए देखें—Electronic Spreadsheet MS-Excel

DBMS का पूरा नाम Database Management System होता है। यह साफ्टवेयर हमें Electronic Database बनाने व उसको मैनेज करने की सुविधा प्रदान करता है। डेटाबेस किसी व्यक्ति, वस्तु, लेनदेन आदि से संबंधित रिकार्ड का कलेक्शन होता है। उदाहरण के लिए स्कूल, कालेज अपने विद्यार्थियों के रिकार्ड का का डेटाबेस बनाते है। इसी प्रकार दुकान वस्तुओं व लेनदेन का रिकार्ड रखते है तथा बैंक अपने ग्राहक तथा उनके लेनदेन का रिकार्ड अपने डेटाबेस में रखते है।

डेटाबेस साफ्टवेयर में प्रत्येक रिकार्ड के लिए एक Unique ID होता है जिसके द्वारा रिकार्ड से संबंधित जानकारी को एक बार में ही डेटाबेस से सर्च करके निकाला जा सकता है। उदाहरण के लिए सकूल में यह Unique Id विद्यार्थियों का Roll Number हो सकता है तथा बैंक में यह ग्राहकों का Account Number हो सकता है। उदाहरण— MS-Access

Starting MS-Access: MS- Access को Start करने के निम्नलिखित तीन प्रमुख तरीके होते है—

  1. Start -> All Programs -> Microsoft Office -> Microsoft Office Access
  2. Windows + R -> Msaccess -> Enter
  3. Windows -> Access -> Enter
DBMS MS-Access Notes in Hindi
Fig. DBMS MS-Access

I-Facts (Interesting facts about DBMS Software MS Access in Hindi

  1. अलग-अलग Office Suite में अलग – अलग नाम से Database Management System (DBMS) साफ्टेवयर उपलब्ध है। उदाहरण— MS-Office (Access), Libre Office (Base) आदि।
  2. dBase एक Database Management System (DBMS) साफ्टवेयर है जिसका प्रयोग MS-DOS आपरेटिंग सिस्टम में किया जाता था।
  3. Electronic Spreadsheet साफ्टवेयर किसी Workbook को Sheets के अंदर Rows and Columns में Organize करता है जबकि Database Management साफ्टवेयर किसी Database को Tables के अंदर Records and Fields में Organize करता है।
  4. Electronic Spreadsheet एवं Database Management इन दोनों प्रकार के साफ्टवेयर में विभिन्न प्रकार के डेटा जैसे— Text, Numbers, Date,Time आदि पर प्रोसेसिंग की जाती है।
  5. Email Client Software अथवा MS Outlook क्या होता है इसकी सहायता से Emails को कैसे मैनेज किया जाता है जानने के लिए देखें—Email Client MS-Outlook
Share it to:

Microsoft Office MS Office Notes in Hindi

Introduction to Microsoft Office MS Office in Hindi

MS Office का इतिहास और इसके विभिन्न Versions के बारे में जानने के लिए देखें—History and Versions of MS-Office

Microsoft Office एक Application साफ्टवेयर का ग्रुप हैं। इसे तकनीकी भाषा में PC-Package या Software Suite भी कहा जाता है। इसे साफ्टवेयर बनाने वाली दुनिया की सबसे बड़ी कम्पनी Microsoft Incorporation के द्वारा Office Work को करने के लिए बनाया गया है। Office में बहुत तरह के कार्य होते है जिन्हें एक साफ्टवेयर से करना संभव नहीं है। अतः इन सभी कार्यो को करने के लिए MS-Office बनाया गया है जो कि साफ्टवेयर का ग्रुप है। वर्तमान में MS-Office में बहुत सारे साफ्टवेयर उपलब्ध है जिनमें कुछ महत्वपूर्ण साफ्टवेयर निम्नलिखित है—

  1. Word Processor / MS-Word
  2. Electronic Spreadsheet / MS-Excel
  3. Presentation / MS-Powerpoint
  4. Database / MS-Access
  5. Email Client / MS-Outlook

MS – Office 2007 के बारे में जानने के लिए देखें—Introduction to MS-Office 2007

MS-Office का प्रत्येक साफ्टवेयर उस विशेष प्रकार के कार्यो को कर सकता है जिसके लिए वह बना है। उदाहरण के लिए MS-Word की सहायता से सभी प्रकार के Document तैयार किए जाते है तथा MS-Excel का प्रयोग सभी प्रकार के Workbook को तैयार करने के लिए किया जाता है। इसी प्रकार MS-Powerpoint का प्रयोग Presentation बनाने, MS-Access का प्रयोग Database बनाने तथा MS-Outlook का प्रयोग Email Management में किया जाता है।

Microsoft Office MS Office in Hindi
Fig. Software of MS Office

I-Facts (Interesting facts about Microsoft Office Suite)

  1. Microsoft Office विश्व में सर्वाधिक प्रयोग किया जाने वाला Office Suite है। किन्तु वर्तमान में इसके समान अन्य कई Office Suite भी उपलब्ध है। जैसे—Kingsoft Office, Libre Office etc.
  2. Kingsoft Office: यह चीनी कम्पनी Kingsoft द्वारा बनाया गया एक Office Suite है। इसे वर्तमान में WPS Office के नाम से जाना जाता है। WPS नाम इसमें उपलब्ध तीन साफ्टवेयर Writer, Presentation व Spreadsheet से लिया गया है।
  3. Libre Office: Libre Office एक Free और Open Source Office Suite है। इसे The Document Foundation नामक संस्था ने बनाया है जो Open Source Software को प्रमोट करता है। इसके साथ Writer, Calc, Impress, Draw, Math, Base नाम से Applications आते है।
  4. इन सबके अतिरिक्त वर्तमान में बहुत सी कम्पनीया ऐसे ही Online Applications Service प्रदान कराती है। जैसे—Google Drive में Google Docs, Google Sheet व Google Slides नाम से Application उपलब्ध है जिनकी सहायता से Online Collaborative Work किया जा सकता है।
  5. MS – Office 2007 के विभिन्न नए Features को जानने के लिए देखें यह पोस्ट—New Features of MS-Office 2007
Share it to:

Presentation Software MS Powerpoint Notes in Hindi

What is Presentation Software MS Powerpoint in Hindi

Presentation Software वे साफ्टवेयर होते है जो हमें किसी Topic पर Slide Show Presentation बनाने की सुविधा प्रदान करते है। स्लाईड शो प्रेजेंटेशन एक ऐसा प्रेजेंटेशन होता है जो बहुत सारे Slides से मिलकर बनता है जो एक-एक करके चलते है। इसकी सहायता से हम किसी भी टापिक या विषय जैसे— कम्प्यूटर, इंटरनेट, पर्यावरण, विज्ञान या अपने प्रोजेक्ट का प्रेजेंटेशन तैयार कर सकते है।

Email Client Software या MS Outlook क्या होता है इस पर कैसे कार्य करते है जानने के लिए देखें—Email Client MS-Outlook

प्रेजेंटेशन साफ्टवेयर हमें अपने प्रेजेंटेशन में Multimedia का प्रयोग करने की भी सुविधा प्रदान करता है। हम प्रेजेंटेशन में Text, Image, Audio, Video, Graphics सभी को मिक्स कर सकते है। इसके साथ ही अपने प्रेजेंटेशन में विभिन्न प्रकार के Animation Effects डाल सकते है और इसे प्रभावशाली बना सकते है। उदाहरण— MS-Powerpoint

Starting MS- Powerpoint: MS-Powerpoint को Start करने के निम्नलिखित तीन प्रमुख तरीके होते है—

  1. Start -> All Programs -> Microsoft Office -> Microsoft Office Powerpoint
  2. Windows + R -> Powerpnt -> Enter
  3. Windows -> Powerpoint -> Enter
Presentation MS-Powerpoint Notes in Hindi
Fig. Presentation MS-PowerPoint

I-Facts (Interesting facts about Presentation Software MS Powerpoint in Hindi)

  1. अलग-अलग Office Suite में अलग – अलग नाम से Presentation साफ्टेवयर उपलब्ध है। उदाहरण— MS-Office (Powerpoint), Kingsoft Office (Presentation), Libre Office (Impress), Google (Slides) आदि।
  2. MS-DOS आपरेटिंग सिस्टम के लिए कोई प्रेजेंटेशन साफ्टवेयर नहीं बनाया गया क्योंकि यह एक Command Line Interface (CLI) पर आधारित आपरेटिंग सिस्टम था जिसमें सारे कार्य Text एवं Numbers में होते थे। इसमें Graphics का प्रयोग नहीं किया जाता था।
  3. Word Processor साफ्टवेयर किसी Document को Pages के अंदर मुख्यतः Texts and Paragraphs में Organize करता है जबकि Presentation साफ्टवेयर किसी Presentation को Slides के अंदर Placeholders में मुख्यतः Text and Images के रूप में Organize करता है।
  4. Accounting Software Package या Tally क्या होता है इसकी क्या विशेषताएँ होती है जानने के लिए देखें—Accounting Software Tally ERP 9
Share it to:

Electronic Spreadsheet Software MS Excel Notes in Hindi

What is Electronic Spreadsheet Software MS Excel in Hindi

Word Processor या MS Word साफ्टवेयर क्या होता है यह किस कार्य के लिए प्रयुक्त होता है जानने के लिए देखें—Word Processor MS-Word

Electronic Spreadsheet एक ऐसा साफ्टवेयर होता है जो हमें इलेक्ट्रानिक स्प्रेडशीट को बनाने की सुविधा प्रदान करता है। स्प्रेडशीट rows और columns से मिलकर बना Table होता है जिसे Worksheet भी कहते है। इसमें हम अपनी जरूरत के अनुसार Data Entry कर सकते है और उस पर विभिन्न प्रकार के गणितीय कार्य भी कर सकते है।

साथ ही इसमें हम अपने डेटा को व्यवस्थित कर सकते है, Search, Sort व Filter कर सकते है तथा जरूरत पड़ने पर डेटा का Chart and Pivot Table के द्वारा विश्लेषण कर रिपोर्ट भी तैयार कर सकते है। इसका प्रयोग मुख्यतः डेटा एंट्री, गणना, डेटा का विश्लेषण, रिपोर्टिंग आदि कार्यो के लिए किया जाता है। उदाहरण—MS-Excel

Starting MS-Excel: MS-Excel को Start करने के निम्नलिखित तीन प्रमुख तरीके होते है—

  1. Start -> All Programs -> Microsoft Office -> Microsoft Office Excel
  2. Windows + R -> Excel -> Enter
  3. Windows -> Excel -> Enter
Spreadsheet MS-Excel Notes in Hindi
Fig. Spreadsheet MS-Excel

I-Facts (Interesting facts about Electronic Spreadsheet Software MS Excel in Hindi

  1. अलग-अलग Office Suite में अलग – अलग नाम से Electronic Spreadsheet साफ्टेवयर उपलब्ध है। उदाहरण— MS-Office (Excel), Kingsoft Office (Spreadsheet), Libre Office (Calc), Google (Docs) आदि।
  2. Lotus 1-2-3 एक Electronic Spreadsheet साफ्टवेयर है जिसका प्रयोग MS-DOS आपरेटिंग सिस्टम में किया जाता था।
  3. MS-Excel में Random Numbers उत्पन्न करने के लिए Randbetween(Bottom,Top) Function का प्रयोग किया जाता है। यहाँ Bottom Random Numbers के रेंज की सबसे छोटी संख्या तथा Top Random Numbers के रेंज की सबसे बड़ी संख्या को व्यक्त करता है।
  4. उदाहरण के लिए =Randbetween(1,100) लिखकर एंटर करने फिर उन्हें कापी करने पर 1 से 100 तक के Random Numbers उत्पन्न हो जायेंगें।
  5. Database Management System (DBMS) या MS Access किसे कहते है इसकी क्या विशेषताएँ होती है जानने के लिए देखें—DBMS MS-Access
Share it to: