Optical Disk CD DVD Notes in Hindi

Optical Disk एक चपटा, वृत्ताकार Polycorbonate डिस्क होता है। इस पर डाटा एक समतल सतह के अन्दर Pits के रूप में Store किया जाता हैं। Pits को Bumps भी कहा जाता है जो वास्तव में Optical Disk की सतह पर बने छोटे-छोटे गढ्ढ़े होते है। ये इतने छोटे होते है कि इन्हें हम अपनी आँखों से नहीं देख सकते है। Optical Disk में डेटा को प्रकाश किरण की सहायता से स्टोर किया जाता है इसीलिए इसे Optical Disk कहा जाता है। इनका प्रयोग सामान्यतः गाने, फिल्म व साफ्टवेयर रखने के लिए किया जाता है। ये निम्नलिखित दो प्रकार के होते है—

1 Compact Disk (CD)

CD एक ऐसा Optical Disk है जिसमें करीब 783MB का डेटा सेव किया जा सकता है। इसकी चौड़ाई 1.2mm तथा लम्बाई 12cm की होती है। ये जरूरत के अनुसार तीन प्रकार के होते है जैसे— CD-ROM, CD-R (WORM), CD-RW आदि। CD-ROM में जो डेटा व साफ्टवेयर होता है उसे केवल पढ़ा जा सकता है उसमें कोई परिवर्तन नहीं किया जा सकता है। CD-R में हम एक बार डेटा या साफ्टवेयर डाल सकते है फिर दुबारा उसमें कोई परिवर्तन नहीं कर सकते है। CD-RW में जितने बार चाहे उतने बार डेटा या साफ्टवेयर स्टोर व डिलिट किया जा सकता है।

2 Digital Versatile Disk (DVD)

DVD भी CD की तरह ही एक Optical Disk होता है किन्तु दोनो इसकी स्टोरेज क्षमता में अंतर होता है। इसमें 4.7 GB तक डेटा स्टोर किया जा सकता है जो CD के 783MB स्टोरेज क्षमता से कहीं अधिक होता है। DVD भी जरूरत के अनुसार तीन प्रकार के होते है जैसे— DVD-ROM, DVD-R (WORM), DVD-RW आदि। DVD-ROM में जो डेटा व साफ्टवेयर होता है उसे केवल पढ़ा जा सकता है उसमें कोई परिवर्तन नहीं किया जा सकता है। DVD-R में हम एक बार डेटा या साफ्टवेयर डाल सकते है फिर दुबारा उसमें कोई परिवर्तन नहीं कर सकते है। DVD-RW में जितने बार चाहे उतने बार डेटा या साफ्टवेयर स्टोर व डिलिट किया जा सकता है।

Optical Disk CD DVD Notes in Hindi
Fig. Optical Disk (CD/DVD)
Share it to:

Published by

admin

I am a computer teacher, programmer and web developer