Operator Overloading in C++ in Hindi

What is Operator Overloading in C++ in Hindi

Operator overloading एक ऐसी प्रक्रिया हैं जिसमें एक operator symbol का प्रयोग अलग – अलग कार्यों को करने के लिए किया जाता हैं। इसमें हम C++ में पहले से उपलब्ध operators को नया meaning देकर प्रयोग करते हैं। जब हम operator overloading के द्वारा किसी operator को नया meaning देते हैं, तो उसका original meaning वही रहता हैं।

C++ में Function Overloading क्या होता है? यह आपरेटर ओवरलोडिंग से किस प्रकार भिन्न है? जानने के लिए देखें—Function overloading in C++

उदाहरण के लिए हम Binary + operator को overload करके दो integer के अलावा दो class को जोड़ सकते हैं। C++ में लगभग सभी operators को overload किया जा सकता हैं। निम्नलिखित को छोड़कर—

  • Class member access operators (. * ,)
  • Scope resolution operators (::)
  • Size of() operator
  • Conditional operator ( ? : )

C++ में operator Overloading के लिए operator function का प्रयोग किया जाता हैं, इसमें Operator function के अंतर्गत ही overload किए जा रहे Operator के नए कार्य को परिभाषित किया जाता है। इसका Syntax निम्नलिखित प्रकार से होता हैं—

Operator Overloading in C++ in Hindi

C++ में Constructor क्या होता है? इसके कितने प्रकार होते है? उदाहरण सहित जानने के लिए हमारा यह पोस्ट देखें—Constructor and its Types

Rules for operator overloading in C++

C++ में किसी आपरेटर को Overload करने के लिए कुछ नियमों को ध्यान में रखना होता है जो निम्नलिखित है—

  • C++ में केवल पहले से उपलब्ध Operators को ही overload किया जा सकता है। कोई नया operator नहीं बनाया जा सकता हैं।
  • इसमें हम overloading करके किसी operator के original meaning को परिवर्तित नहीं कर सकते।
  • Overloading के बाद operator का Syntax वही रहता है जो overloading के पहले रहता हैं।
  • Overloaded operator में कम से कम एक argument ऐसा होता हैं जो class type का होता हैं।
  • इसमें कुछ operators को overload करने के लिए friends function का प्रयोग नहीं किया जा सकता, किन्तु member function का प्रयोग किया जा सकता हैं।

Share it to:

Published by

admin

I am a computer teacher, programmer and web developer