Introduction to MS-Windows 7 Notes in Hindi

Introduction to MS-Windows 7 in Hindi

MS-Windows 7 साफ्टवेयर बनाने वाली विश्व की सबसे बड़ी कम्पनी Microsoft के द्वारा बनाया गया एक Operating System Software है। इसे सन् 2009 में रिलिज किया गया था जिसे दुनिया भर में बहुत पसंद किया गया। यह एक Best आपरेटिंग साप्टवेयर है जो हार्डवेयर और साफ्टवेयर के बीच संतुलन बनाता है और हमारे कम्प्यूटर के Performance में वृद्धि करता है। यह 32 bit व 64 bit दोनों में उपलब्ध है। साथ ही अलग-अलग जरूरतों के अनुसार इसके अलग-अलग Flavors भी है जैसे—Starter, Home Basic, Home Premium, Professional, Enterprise, Ultimate. इसे चलाने के लिए बहुत ही कम क्षमता के हार्डवेयर की आवश्यकता होती है जो निम्नलिखित है—(Windows 7 के विभिन्न Features को पढ़ने के लिए देखें—New Features of Windows 7)

  1. Processor – 1 GHz 32 bit (x86) or 1 GHz 64 bit (x64)
  2. RAM – 1 GB (32 bit) or 2 GB (64 bit)
  3. Hard Disk – 16 GB (32 bit) or 20 GB (64 bit)
  4. Graphics Card – DX9 Graphics Device 128 MB with WDDM 1.0 Driver
Windows 7 Logo
Fig. Windows 7 Logo

I-Facts (Interesting facts about MS-Windows 7)

  1. Object: Windows में किसी भी File, Folder, Program आदि को Object कहा जाता है।
  2. Icons: Windows में किसी भी File, Folder, Program, Option या tool को दर्शाने वाले छोटे-छोटे images को icons कहा जाता है। हम इन icons पर क्लिक करके किसी File, Folder को खोलते है, किसी प्रोग्राम को चलाते है या किसी Option, Tool का प्रयोग करते है। Windows के Screen Elements के बारे में अधिक जानने के लिए देखें—Screen Elements of Windows 7
  3. Accessories: Windows एक Single Software न होकर बहुत सारे साफ्टवेयर का समूह होता है। Accessories उन महत्वपूर्ण साफ्टवेयर व यूटिलिट प्रोग्रामों का समूह होता है जो Windows के साथ आते है।
  4. Default: Windows में विभिन्न विकल्पों के मान पहले से ही सेट होकर आते है जिन्हें Default Values कहा जाता है। उदाहरण के लिए Windows 7 में डेस्कटॉप बैकग्राउंड के रूप में Windows 7 Theme पहले से सेट होता है।
  5. Customization: Default  Settings को अपनी जरूरत के अनुरूप परिवर्तित करना Customization कहलाता है।
  6. Optimization: सिस्टम को ऐसे सेट करना जिससे कि इसके विभिन्न संसाधनों का आवश्यक कार्य के लिए बेहतर से बेहतर उपयोग हो सके Optimization कहलाता है।
Share it to:

Published by

admin

I am a computer teacher, programmer and web developer