Introduction and Definition of Computer in Hindi

Computer Notes in Hindi

Computer शब्द Compute शब्द से बना है जिसका अर्थ है—गणना करना। किन्तु वास्तव में कम्प्यूटर आज एक गणना (Calculation) करने वाली मशीन न होकर एक संगणना (Processing) करने वाली मशीन के रूप में जाना जाता है। अर्थात् यह सभी प्रकार के गणना व तुलना तो कर ही सकता है साथ ही सभी प्रकार के संगणना जैसे—Letter, Document, Worksheet, Data Entry, Report, Graphics, Animation बनाने का कार्य भी कर सकता है।

Parts of Computer System
Fig. Parts of Computer System

वर्तमान में कम्प्यूटर को नेटवर्क से कनेक्ट करके Online Shopping, Bill Payment, Ticket Booking, Banking आदि कार्य भी घर बैठे ही किए जा सकते है। हममें से ज्यादातर लोग कम्प्यूटर का प्रयोग मुख्यतः डेटा को स्टोर करने, Video Game, Movie, Music चलाने तथा इंटरनेट में Searching, Downloading व Chatting करने के लिए करते है।

कम्प्यूटर के मूलभूत रूप से निम्नलिखित दो parts होते है—Hardware और Software

(1) Hardware: कम्प्यूटर के सभी Physical Components जिन्हें देखा व छूआ जा सकता है हार्डवेयर कहलाते है। दूसरें शब्दों में कम्प्यूटर में जितने भी Devices लगे होते है वे ही हार्डवेयर कहलाते है।

उदाहरण— CPU, Monitor, Mouse, Keyboard, Printer, Cables etc.

(2) Software:  साफ्टवेयर निर्देशों के समूह को कहते है जिन्हें छूआ नहीं जा सकता है किन्तु मानीटर स्क्रीन पर चलते हुए देखा जा सकता है।

उदाहरण— Windows, Android, Word, Excel, Powerpoint, Access etc.

I-Facts

# Computer शब्द का प्रयोग सर्वप्रथम सन् 1613 में एक अंग्रेज Richard Braithwait ने अपनी पुस्तक The Young Mans Gleanings में किया था।

# दुनिया भर में प्रतिवर्ष 2 दिसम्बर के दिन को कम्प्यूटर साक्षरता दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसे मनाने की शुरूआत NIIT भारत के द्वारा अपने 20 वीं स्थापना दिवस के अवसर पर सन् 2001 में किया गया था।

# हार्डवेयर को कम्प्यूटर का शरीर तो साफ्टवोयर को इसकी आत्मा कहा जाता है या हार्डवेयर को कम्प्यूटर का इंजन तो साफ्टवेयर को इसे चलाने वाला इंधन कहते है।

# भारत में सबसे पहला कम्प्यूटर भारतीय सांख्यिकीय संस्थान कलकत्ता में सन् 1956 में स्थापित किया गया था जिसका नाम HEC-2M (Hollerith Electronic Computer – 2M) था। इसे इंग्लैण्ड से 10 लाख रूपए में खरीदा गया था।

# भारत में सबसे पहला कम्प्यूटर सन् 1967 में Electronic Corporation of India के द्वारा बनाया गया था जिसका नाम Siddharth था।

# भारत में कम्प्यूटर का प्रथम प्रयोग 16 अगस्त सन् 1986 को बैंगलोर के डाकघर में किया गया था किन्तु भारत का प्रथम पूर्ण कम्प्यूटरीकृत डाकघर नई दिल्ली है।

# भारत का प्रथम कम्प्यूटर साक्षर जिला मलप्पूरम (केरल) है। कम्प्यूटर साक्षर कहने का अर्थ कम्प्यूटर क्या कर सकता है और क्या नहीं कर सकता है इसकी जानकारी होना है जिससे हम अपने कार्यो को करने के लिए इसका प्रयोग कर सके।

# भारत का प्रथम कम्प्यूटर साक्षर ग्राम मलप्पूरम (केरल) का चमरावत्तम ग्राम है।

# भारत का प्रथम पूर्ण कम्प्यूटरीकृत ग्राम थिरूअनन्तपुरम (केरल) का वेलानन्द ग्राम पंचायत है।

# विभिन्न श्रोतो से प्राप्त Facts व Figures Data कहलाते है जो प्रोसेसिंग के पश्चात् उपयोगी Information बन जाते है। इस प्रकार Data अव्यवस्थित Facts को कहा जाता है जबकि Information व्यवस्थित Data को कहते है।

# Data की प्रोसेसिंग दो प्रकार से होती है—Manual Data Processing (MDP) और Electronic Data Processing (EDP)

# GIGO – Garbage In Garbage Out अर्थात् कम्प्यूटर में व्यर्थ का डेटा इनपुट करने पर परिणाम भी व्यर्थ ही प्राप्त होते है।

# कम्प्यूटर निर्माण उद्योग में अग्रणी होने के कारण भारत के बैंगलोर शहर को IT City या Silicon Valley of India कहा जाता है। यहा लगभग सभी विश्व स्तरीय IT Companies के कार्यालय स्थित है।

Published by

admin

I am a computer teacher, programmer and web developer