Compiler Language Translator Program Notes in Hindi

What is Language Translator Program Compiler in Hindi

Interpreter क्या होता है यह Compiler से किस प्रकार भिन्न होता है जानने के लिए देखें—Interpreter: A Language Translator Program

Compiler एक ऐसा प्रोग्राम हैं जो High Level Language में लिखे गए Program (Source Code) को Machine Language (Binary Code) में Translate करने का कार्य करता है। यह एक बार में ही प्रोग्राम के सभी Statements को Translate करता है और किसी प्रकार की गलती होने पर Error Message प्रदर्शित करता है।

एक बार सोर्स फाईल पूरी तरह कम्पाइल हो जाने पर बने बाईनरी फाईल को Object File कहते है। बाद में इसी आबजेक्ट फाईल से executable फाईल बनाया जाता है जो वास्तव में साफ्टवेयर होता है जिसे कम्प्यूटर पर रन किया जा सकता है। चूँकि कम्पाइलर एक ही बार में प्रोग्राम के सभी स्टेटमेंट को ट्रांस्लेट कर सकता है अतः यह बहुत तीव्र गति से कार्य करता है। ज्यादातर प्रोग्रामिंग भाषाओं जैसे—C, C++, Java, Visual Basic आदि में सोर्स कोड को बाईनरी कोड में बदलने के लिए कम्पाइलर का ही प्रयोग किया जाता है।

Assembler क्या होता है यह कितने प्रकार का होता है जानने के लिए देखें—Assembler: An Assembly Language Translator Program

Compiler Language Translator Program Notes in Hindi
Fig. Working of Compiler

I-Facts (Interesting facts related to Compiler in Hindi)

  1. Compiler प्रोग्राम के सभी निर्देशों को एक बार में ही Binary Code  में परिवर्तित करता है। इस दौरान प्रोग्राम के कोड में किसी प्रकार की गलती होने पर इसकी सूचना देता है। इन गलतियो को Bugs कहा जाता है।
  2. Compilation Process के दौरान मुख्यतः निम्नलिखित तीन प्रकार की गलतिया (Errors or Bugs) होती है— Syntax Errors, Execution Errors, Logical Errors.
  3. इसमें से Syntax Errors का पता लगाना सबसे आसान होता है जबकि Logical Errors को ढूँढ़ना सबसे कठीन होता है।
  4. Syntax Errors को Compile Time Errors भी कहा जाता है। ये गलतिया Comma या Semicolon का छूट जाना, Capital या Small का सही प्रयोग न करना, Missspelt आदि के कारण होता है।
  5. Execution Errors को Run Time Errors भी कहा जाता है। Infinite Loop व Divide by Zero इसके उदाहरण है।
  6. Logical Errors को Output Time Errors भी कहा जाता है। इसके कारण गलत आउटपुट आता है।
  7. Compiler और Interpreter में अंतर जानने के लिए देखें—Compiler vs Interpreter
Share it to:

Published by

admin

I am a computer teacher, programmer and web developer