Communication Transmission Media in Hindi

 

Communication Media वह माध्यम या मार्ग होता है जिसके द्वारा डेटा व सूचनाओं को Sender से Receiver तक ले जाया जाता है। इसे Transmission Media भी कहा जाता है। यह निम्नलिखित दो प्रकार का होता है—

Communication Media
Fig. Types of Communication Media

 

1 Guided Media

Guided Media को Wired Media भी कहा जाता है। इसमें Physical Cable का प्रयोग डेटा व सूचनाओं को Sender से Receiver तक ले जाने के लिए किया जाता है। Guided Media निम्नलिखित तीन प्रकार का होता है—

A Twisted Pair Cable

Twisted Pair Cable ताँबे के दो तारों का बना होता है जो आपस में लिपटे हुए होते है। ये दोनो तार प्लास्टिक से Insulated होते है। दोनो तार को Twisted करने का फायदा यह होता है कि इससे Noise या Crosstalk का प्रभाव कम हो जाता है। Twisted Pair Cable Data Communication के लिए बहुत सस्ता होता है। इसका प्रयोग टेलीफोन लाईन, कुछ लोकल एरिया नेटवर्क आदि में किया जाता है। इसकी सहायता से 1-2 किलोमीटर के ऐरिया को कवर किया जाता है और इसमें डेटा ट्रांस्फर की गति 1-2 Mbps तक की होती है।

B Coaxial Cable

Coaxial Cable में एक ठोस तांबे का तार होता है जो ठोस प्लास्टिक से Insulated होता है। इसके ऊपर धातु के जालीदार तार लिपटे होते है जो पुनः प्लास्टिक से Insulated होता है। इसमें ऊपर धातु का तार सिग्नल को शोर बचाने के लिए होता है। इसका प्रयोग लोकल एरिया नेटवर्क एवं केबल टीवी में किया जाता है। इसकी सहायता से 1-2 किलोमीटर के ऐरिया को कवर किया जाता है और इसमें डेटा ट्रांस्फर की गति 100 Mbps तक की होती है।

C Fiber Optic Cable

Fiber Optic Cable कांच के हज़ारों पतले रेशे से निर्मित होता है। इसमें डेटा व सूचनाओं को प्रकाश के रूप में ट्रांस्फर किया जाता है। इसका प्रयोग हजारों किलोमीटर तक के एरिया को भी कवर किया जा सकता है तथा इसकी गति भी कई गुना अधिक होती है। इसीलिए वर्तमान में Data Transmission के लिए Fiber Optic Cable का प्रयोग सर्वाधिक किया जा रहा है। इसमें एक लेजर डिवाईस लगा होता है जो सिग्नल को 1000 Mbps की गति से Transmit करता है।

Transmission Media Guided Media
Fig. Twisted Pair Cable Coaxial Cable Fiber Optic Cable

 

2 Unguided Media

Unguided Media को Wireless Media भी कहा जाता है। इसमें Physical Cable की बजाए वातावरण का प्रयोग डेटा व सूचनाओं को Sender से Receiver तक ले जाने के लिए किया जाता है। Unguided Media भी निम्नलिखित तीन प्रकार का होता है—

A Radio Waves

Radio Waves ऐसे Electromagnetic Waves होते है जिनकी आवृत्ति समान्यतः 3 KHz से 1 GHz तक की होती है। ये तरंगे सभी दिशाओं में विचरण करते हुए Sender से Receiver तक पहुँचती है। इसमें सिग्नल भेजने वाले Antenna एवं उसे प्राप्त करने वाले Antenna को एक सीध में रहने की आवश्यकता नहीं होती है। इसीलिए इनका प्रयोग Multicasting अर्थात् FM Radio, AM Radio, Television, Wireless Phone आदि में किया जाता है।

B Micro Waves

Micro Waves ऐसे Electromagnetic Waves होते है जिनकी आवृत्ति समान्यतः 1 GHz से 300 GHz तक की होती है। ये तरंगे एक ही दिशा में गमन करते हुए Sender से Receiver तक पहुँचती है। इसमें सिग्नल भेजने वाले Antenna एवं उसे प्राप्त करने वाले Antenna दोनो का एक सीध में रहना बहुत जरूरी होता है। इसीलिए इनका प्रयोग Unicasting अर्थात् Microwave Oven, Cellular Phone, Satellite आदि में किया जाता है।

C Infrared Waves

Infrared Waves ऐसे Electromagnetic Waves होते है जिनकी आवृत्ति समान्यतः 300 GHz से 400 THz तक की होती है। ये तरंगे बहुत ही कम दूरी के Communication के लिए प्रयोग में लायी जाती है। इनका प्रयोग TV, AC, Cooler आदि के Remote में, Wireless Keyboard, Mouse, Printer आदि में किया जाता है।

 

Published by

admin

I am a computer teacher, programmer and web developer