Classification and Types of Computer in Hindi

Classification of Different Types of Computer in Hindi

वर्तमान में दुनिया के लगभग सभी प्रकार के कार्य कम्प्यूटर की सहायता से होने लगे है। छोटी बड़ी सभी प्रकार की मशीनें भी कम्प्यूटर से संचालित होन लगी है। किन्तु इतने सारे कार्यो और मशीनों को एक ही कम्प्यूटर संचालित कर सके यह संभव नहीं है। अतः इन सभी प्रकार के कार्यो को करने एवं मशीनों को चलाने के लिए कम्प्यूटर भी तरह-तरह के उपलब्ध है। हम इन सभी तरह के कम्प्यूटरों को मुख्यत: निम्नलिखित तीन आधारों पर वर्गीकृत कर सकते है—

  1. Based on Mechanism – Analog, Digital and Hybrid Computers. इनके बारे में अधिक जानकारी के लिए यह पोस्ट देखे—Analog Digital and Hybrid Computer
  2. Based on Purpose – General Purpose and Special Purpose Computers.
    इनके बारे में अधिक जानकारी के लिए यह पोस्ट देखे— General Purpose and Special Purpose Computer
  3. Based on Size – Micro, Mini, Mainframe and Super Computers.
    इनके बारे में अधिक जानकारी के लिए यह पोस्ट देखे— Micro, Mini, Mainframe and Super Computer
Classification and Types of Computer
Fig. Classification and Types of Computer

I-Facts (Interesting Facts Related to Different Types of Computers)

  1. Altair-8800 दुनिया का सबसे पहला माइक्रो कम्प्यूटर था जिसे अमेरिकी कंपनी Micro Instrumentation and Telemetry Systems (MITS) ने बनाया था। इसमें Intel 8080 प्रोसेसर का प्रयोग किया गया था।
  2. Apple – II दुनिया का सबसे पहला व्यावसायिक माइक्रो कम्प्यूटर था।
  3. Programmed Data Processor-8 (PDP-8) दुनिया का सबसे पहला मिनी कम्प्यूटर था जिसे अमेरिकी कंपनी Digital Equipment Corporation (DEC) ने बनाया था।
  4. Cray K-1 दुनिया का सबसे पहला सुपर कम्प्यूटर था जिसे सुपर कम्प्यूटर बनाने वाली अमेरिकी Cray Research Company ने सन् 1979 में बनाया था।
  5. Cray Research Company के संस्थापक Seymour Cray है जिन्हें Father of Supercomputer भी कहा जाता है।
  6. भारत का पहला सुपर कम्प्यूटर PARAM-8000 है जिसे सन् 1991 में Center For Development of Advance Computing (C-DAC) पुणे के द्वारा बनाया गया और बाद में सन् 1998 में इसका विकसित रूप PARAM-10000 भी तैयार कर लिया गया।
  7. PARAM-8000 के निर्माण का श्रेय C-DAC के तत्कालीन निर्देशक Vijay P. Bhatkar को जाता है उन्होने ही भारत में सुपर कम्प्यूटर की शुरूआत की।
  8. PARAM से पहले भी भारत में Flosolver नाम से सुपर कम्प्यूटर National Aeronautical Lab (NAL), Bangaluru के द्वारा सन् 1980 में बनाया गया था।
  9. भारत में Anupam Series के सुपर कम्प्यूटर का विकास Bhabha Atomic Research Center (BARC), Mumbai के द्वारा किया गया है।
  10. भारत में PACE Series (Processor for Aerodynamic Computation and Evolution) के कम्प्यूटर का विकास ANURAG (Advanced Numerical Research and Analysis Group), Hyderabad के द्वारा Defence Research Development and Organization (DRDO), Delhi के लिए किया गया है।
  11. वर्तमान में दुनिया का सबसे शक्तिशाली सुपर कम्प्यूटर Sunway taihulight है जिसे चीन ने सन् 2016 में बनाया है। इसकी गति 93.01 PFLOPS है।
  12. वर्तमान में भारत का सबसे शक्तिशाली सुपर कम्प्यूटर PARAM YUVA-II है जिसे C-DAC ने सन् 2013 में बनाया है। इसकी गति 524 TFLOPS है।
  13. C-DOT (Center for Development of Telematics) भारत सरकार के द्वारा स्थापित Telecommunication और Technology विकास केन्द्र है। इसका मुख्यालय दिल्ली में है।
  14. कम्प्यूटर के इतिहास के बारे में अधिक जानकारी के लिए यह पोस्ट देखे—History and Development of Computer
Share it to:

Published by

admin

I am a computer teacher, programmer and web developer