Characteristics and Features of MS-Excel in Hindi

 

1 Data Entry, Printing and Saving: इलेक्ट्रानिक स्प्रेटशीट हमें टैक्स्ट, नंबर आदि प्रकार के डेटा को एंट्री व प्रिंट करने की सुविधा प्रदान करता है। इसकी सहायता से हम अपने स्प्रेडशीट को भविष्य में उपयोग के लिए सेव करके भी रख सकते है।

2 Formulas: हम इलेक्ट्रानिक स्प्रेडशीट में एंट्री किए गए डेटा पर आसानी से कैल्कुलेशन कर सकते है। इसके लिए हम स्वयं फार्मुला बना सकते है अथवा पहले से बने फार्मुला (फंक्शन) का प्रयोग कर सकते है।

3 Functions: फंक्शन स्प्रेडशीट में पहले से बने फार्मुलो को कहा जाता है। स्प्रेडशीट में बहुत सारे फार्मूले पहले से ही बने होते है। इनके प्रयोग से कैल्कुलेशन करना और भी आसान हो जाता है।

4 Resizing and Freezing

इलेक्ट्रानिक स्प्रेडशीट में हम किसी भी रो या कालम की ऊँचाई या चौड़ाई को कम ज्यादा कर सकते है। इसके साथ ही स्प्रेडशीट में बहुत सारे रो और कालम होने पर किसी विशेष रो या कालम को फ्रीज करके स्क्रीन पर बनाए रख सकते है।

5 Hiding and Unhiding: इलेक्ट्रानिक स्प्रेडशीट हमें यदि किसी रो या कालम को वर्तमान में नहीं देखना है तो हाईड कर सकते है और बाद में उसे देखने की जरूरत पड़ी तो अनहाईड भी किया जा सकता है।

6 Inserting and Deleting: हम इलेक्ट्रानिक स्प्रेडशीट में किसी भी स्थान पर जब चाहे नया रो या कालम जोड़ सकते है या किसी रो या कालम की आवश्यकता नहीं होने पर उन्हें स्थाई रूप से डिलिट भी सकते है।

7 Data Analysis: डेटा का विश्लेषण करना सकना इलेक्ट्रानिक स्प्रेडशीट की महत्वपूर्ण विशेषता होती है। इसके लिए इसमें सर्च, सार्ट व फिल्टर के टूल्स होते है जिसके माध्यम से हम विभिन्न प्रश्नों के जवाब बहुत ही आसानी से दे सकते है।

8 Reporting and Summarizing: डेटा पर रिपोर्ट तैयार कर सकना इलेक्ट्रानिक स्प्रेडशीट की एक और महत्वपूर्ण विशेषता होती है। इसके लिए इसमें पिवोट टेबल होता है जो रिपोर्ट एवं समरी बनाने के लिए एक बहुत ही शक्तीशाली टूल है।

9 Page Setup: इलेक्ट्रानिक स्प्रेडशीट हमें पेज की सेटिंग करने के लिए विभिन्न प्रकार के टूल उपलब्ध कराता है। इसकी सहायता से हम पेज का साईज, मार्जिन, आरिएन्टेशन सेट कर सकते है। साथ ही पेज में आ रहे रो और कालम की संख्या को भी कम ज्यादा कर सकते है।

10 Protection: इलेक्ट्रानिक स्प्रेडशीट में हम बनाए गए वर्कशीट में पासवर्ड डालकर उसे सुरक्षित रख सकते है। यह उस समय बहुत उपयोगी होता है जब वर्कशीट बहुत सीक्रेट हो और उसे ई-मेल करके कहीं भेजना हो।

 

Share it to:

Published by

admin

I am a computer teacher, programmer and web developer