Cache Memory notes in Hindi

Cache एक High Speed मेमोरी होता है जो कम्पूयटर में CPU और RAM के मध्य लगा होता है। यह उन डेटा व निर्देशों को स्टोर करके रखता है जिनकी जरूरत CPU को बार-बार पड़ती रहती है। सामान्य रूप से डेटा व निर्देश प्रोग्राम के रन होते समय RAM में स्टोर रहते है जिन्हें CPU जरूरत पड़ने पर प्राप्त करता है। किन्तु RAM की गति Cache के मुकाबले कम होती है। अतः ऐसे सभी डेटा व निर्देश जिनकी जरूरत सीपीयू को बार-बार हो उन्हें RAM की अपेक्षा Cache में रखा जाता है। CPU Cache से डेटा को RAM को मुकाबले जल्दी प्राप्त करता है इससे प्रोसेसिंग की गति में वृद्धि होती है। कैश मेमोरी निम्नलिखित तीन प्रकार के होते है—

(1). L1 Cache: L1 Cache को Onboard, Internal अथवा Primary Cache के नाम से भी जाना जाता है। यह CPU में ही निर्मित होता है। L1 कैश की गति सबसे अधिक तथा आकार सबसे कम 8KB से 128KB तक होता है।

(2). L2 Cache: L2 Cache को External अथवा Seconday Cache के नाम से भी जाना जाता है। यह L1 की तरह CPU में निर्मित न होकर Motherboard में एक अलग से चिप में निर्मित होता है। L2 कैश का आकार 128KB से 1MB तक होता है।

(3). L3 Cache: L3 Cache का प्रयोग सामान्यतः उच्च क्षमता वाले कम्प्यूटरों में किया जाता है। यह भी मदरबोर्ड में ही निर्मित होता है। L3 कैश की गति सबसे कम तथा आकार सबसे अधिक 8MB तक होता है।

Cache Memory notes in Hindi
Fig. Cache Memory

Published by

admin

I am a computer teacher, programmer and web developer