Booting Process notes in Hindi

कम्प्यूटर को Start व Restart करना Booting कहलाता है। बंद पड़े कम्प्यूटर को स्टार्ट करना Cold Booting तथा पहले से चालू कम्प्यूटर को रिस्टार्ट करना Warm Booting कहलाता है। जैसे ही हम अपने कम्प्यूटर का स्वीच ऑन करते है ROM मेमोरी में स्टोर निर्देश (BIOS) अपने आप execute हो जाते है। ये निर्देश POST Operation को चालू करते है जिसमें कम्प्यूटर से जुड़े सभी Devices को चेक किया जाता है और सही होने पर आपरेटिंग सिस्टम को External Storage Device (Hard Disk) से Internal Memory Device (RAM) में लोड किया जाता है। आपरेटिंग सिस्टम को डिस्क से रैम में लोड करना ही Booting Process कहलाता है। इसके सफलतापूर्वक पूरा हो जाने पर मानीटर में डिस्प्ले आना चालू हो जाता है और हमें कम्प्यूटर का Desktop दिखायी देताहै।

Booting Process notes in Hindi
Fig. Booting Process
Share it to:

Published by

admin

I am a computer teacher, programmer and web developer