Example program passing structure as function argument C C++

Coding in C

#include<stdio.h>
struct student
{
    char grade;
    int marks;
    float per;
};
void display(struct student);
int main()
{
    struct student s;
    printf("Enter grade  : ");
    scanf("%c",&s.grade);
    printf("Enter marks  : ");
    scanf("%d",&s.marks);
    printf("Enter Percent: ");
    scanf("%f",&s.per);
    display(s);
    return 0;
}
void display(struct student s)
{
    printf("Grade  = %c\n",s.grade);
    printf("Marks  = %d\n",s.marks);
    printf("Percent= %f\n",s.per);
}

Coding in C++

#include<iostream>
using namespace std;
struct student
{
    char grade;
    int marks;
    float per;
};
void display(struct student);
int main()
{
    struct student s;
    cout<<"Enter grade  :  ";
    cin>>s.grade;
    cout<<"Enter marks  :  ";
    cin>>s.marks;
    cout<<"Enter percent:  ";
    cin>>s.per;
    display(s);
    return 0;
}
void display(struct student s)
{
    cout<<"Grade    = "<<s.grade<<endl;
    cout<<"Marks    = "<<s.marks<<endl;
    cout<<"Percent  = "<<s.per<<endl;
}

Output

Share it to:

Example program passing array as function argument in C C++

Coding in C

#include<stdio.h>
void display(int[],int);
int main()
{
    int a[5],i=0;
    printf("Enter values: ");
    for(i=0;i<5;i++)
    scanf("%d",&a[i]);
    display(a,5);
    return 0;
}
void display(int a[], int n)
{
    int i=0,sum=0;
    for(i=0;i<n;i++)
    {
        printf("Element = %d\n",a[i]);
        sum=sum+a[i];
    }
    printf("Sum = %d",sum);
}

Coding in C++

#include<iostream>
using namespace std;
void display(int[],int);
int main()
{
    int a[5],i=0;
    cout<<"Enter values: ";
    for(i=0;i<5;i++)
    cin>>a[i];
    display(a,5);
    return 0;
}
void display(int a[], int n)
{
    int i=0,sum=0;
    for(i=0;i<n;i++)
    {
        cout<<"Element = "<<a[i]<<endl;
        sum=sum+a[i];
    }
    cout<<"Sum = "<<sum;
}

Output

Example program for passing array as function argument in C
Share it to:

Pointer to function in C++ in Hindi

किसी बड़े प्रोग्राम को छोटे-छोटे भागों में विभाजित करके लिखा जाता है जिसे Function कहते है। प्रोग्राम बनाते समय हमें कई सारे कार्यो को बार-बार करने की जरूरत पड़ती है। इसके लिए हमें एक ही Statements को बार-बार टाईप करना पड़ता है। Function का प्रयोग इसी समस्या से बचने के लिए किया जाता है। इसमें किसी विशेष कार्य से संबंधित Statements को एक स्थान पर रखा जाता है। फिर जब भी प्रोग्राम में इस विशेष कार्य को करने की जरूरत पड़ती है तो Function का नाम लिखकर उसे Call करते है।

सामान्यतः हम function को उसका नाम लिखकर Call करते है किन्तु किसी सामान्य Variable, Array, Structure, String की तरह function को भी Pointer की सहायता से Point किया जा सकता है और इसके प्रयोग से Call भी किया जा सकता है। इसके लिए Function के अनुसार विशेष प्रकार से Pointer Declare करने की जरूरत होती है फिर उस Function के Address को Pointer में Assign करते है। इसके बाद हम Function के नाम के स्थान पर Pointer का प्रयोग करके Function को Call कर सकते है।

Pointer to function in C CPP in Hindi
Share it to:

Pointer to function in C in Hindi

किसी बड़े प्रोग्राम को छोटे-छोटे भागों में विभाजित करके लिखा जाता है जिसे Function कहते है। प्रोग्राम बनाते समय हमें कई सारे कार्यो को बार-बार करने की जरूरत पड़ती है। इसके लिए हमें एक ही Statements को बार-बार टाईप करना पड़ता है। Function का प्रयोग इसी समस्या से बचने के लिए किया जाता है। इसमें किसी विशेष कार्य से संबंधित Statements को एक स्थान पर रखा जाता है। फिर जब भी प्रोग्राम में इस विशेष कार्य को करने की जरूरत पड़ती है तो Function का नाम लिखकर उसे Call करते है।

सामान्यतः हम function को उसका नाम लिखकर Call करते है किन्तु किसी सामान्य Variable, Array, Structure, String की तरह function को भी Pointer की सहायता से Point किया जा सकता है और इसके प्रयोग से Call भी किया जा सकता है। इसके लिए Function के अनुसार विशेष प्रकार से Pointer Declare करने की जरूरत होती है फिर उस Function के Address को Pointer में Assign करते है। इसके बाद हम Function के नाम के स्थान पर Pointer का प्रयोग करके Function को Call कर सकते है।

Share it to:

Pointer and String and Pointer to String in C++ in Hindi

String एक ऐसा variable होता है जिसमें अक्षर या अक्षरों के समूह को स्टोर किया जा सकता है। इसका प्रयोग किसी अक्षर, शब्द, वाक्य, नाम, पहचान नम्बर, पता आदि को स्टोर करने के लिए किया जाता है। वास्तव में String एक Characters का One Dimensional Array होता है जिसके प्रत्येक Character मेमोरी में 1 Byte का स्थान लेते है। प्रत्येक String के अंत में सदैव एक एक Special Character ‘\0’ स्टोर होता है जिसे Null Character कहते है। इसे String Termination Character भी कहा जाता है जो String के अंत को सूचित करता है।

जिस प्रकार हम Pointer का प्रयोग किसी सामान्य Variableस, Array व Structure को Point करने के लिए करते है ठीक उसी प्रकार इसकी सहायता से किसी String Variable को भी आसानी से Point किया जा सकता है। इसके साथ ही Pointer के प्रयोग से String पर ऐसे बहुत से Operations किए जा सकते है जो सामान्य प्रकार से नहीं किए जा सकते है। उदाहरण के लिए हम किसी सामान्य String Variable के मान को किसी दूसरे String Variable में स्टोर नहीं कर सकते है किन्तु किसी Pointer String Variable के मान को दूसरे Pointer String Variable में स्टोर कर सकते है। इसी प्रकार किसी सामान्य String Variable को Declare करते ही Initialize करना होता है किन्तु Pointer String Variable को Declare करके प्रोग्राम में कहीं भी Initialize कर सकते है।

Pointer and String and Pointer to String in C in Hindi
Share it to:

Pointer and String and Pointer to String in C in Hindi

String एक ऐसा variable होता है जिसमें अक्षर या अक्षरों के समूह को स्टोर किया जा सकता है। इसका प्रयोग किसी अक्षर, शब्द, वाक्य, नाम, पहचान नम्बर, पता आदि को स्टोर करने के लिए किया जाता है। वास्तव में String एक Characters का One Dimensional Array होता है जिसके प्रत्येक Character मेमोरी में 1 Byte का स्थान लेते है। प्रत्येक String के अंत में सदैव एक एक Special Character ‘\0’ स्टोर होता है जिसे Null Character कहते है। इसे String Termination Character भी कहा जाता है जो String के अंत को सूचित करता है।

जिस प्रकार हम Pointer का प्रयोग किसी सामान्य Variableस, Array व Structure को Point करने के लिए करते है ठीक उसी प्रकार इसकी सहायता से किसी String Variable को भी आसानी से Point किया जा सकता है। इसके साथ ही Pointer के प्रयोग से String पर ऐसे बहुत से Operations किए जा सकते है जो सामान्य प्रकार से नहीं किए जा सकते है। उदाहरण के लिए हम किसी सामान्य String Variable के मान को किसी दूसरे String Variable में स्टोर नहीं कर सकते है किन्तु किसी Pointer String Variable के मान को दूसरे Pointer String Variable में स्टोर कर सकते है। इसी प्रकार किसी सामान्य String Variable को Declare करते ही Initialize करना होता है किन्तु Pointer String Variable को Declare करके प्रोग्राम में कहीं भी Initialize कर सकते है।

Pointer and String and Pointer to String in C in Hindi
Share it to:

C C++ program to differentiate between structure and union

Coding in C

#include<stdio.h>

struct s
{
    char c;
    int i;
    float f;
}sv;

union u
{
    char c;
    int i;
    float f;
}uv;

int main()
{
    printf("Size of sv = %d\n",sizeof(sv));
    printf("Size of uv = %d\n",sizeof(uv));
    printf("Addresses of sv = %u %u %u\n",&sv.c,&sv.i,&sv.f);
    printf("Addresses of uv = %u %u %u\n",&uv.c,&uv.i,&uv.f);
    return 0;
}

Coding in C++

#include<iostream>
using namespace std;

struct s
{
    char c;
    int i;
    float f;
}sv;

union u
{
    char c;
    int i;
    float f;
}uv;

int main()
{
    cout<<"Size of sv = "<<sizeof(sv)<<endl;
    cout<<"Size of uv = "<<sizeof(uv)<<endl;
    cout<<"Addresses of sv = "<<&sv.c<<" "<<&sv.i<<" "<<&sv.f<<endl;
    cout<<"Addresses of uv = "<<&uv.c<<" "<<&uv.i<<" "<<&uv.f<<endl;
    return 0;
}

Output

C C++ program to differentiate between structure and union
Share it to:

Difference between structure and union in C++ in Hindi

Structure एक ऐसा Variable होता है जिसमें एक समय में एक से अधिक डेटा को स्टोर किया जा सकता है। इसमें स्टोर डेटा Array की तरह एक ही टाईप के हो यह जरूरी नहीं होता है। इसे विशेष रूप से किसी Entity अर्थात् Student, Employee, Customer, Product, Transaction आदि से संबंधित अलग-अलग टाईप के डेटा को स्टोर करने के लिए बनाया गया है। इसीलिए Structure को अलग-अलग प्रकार के डेटा का Collection भी कहा जाता है। वास्तव में Structure एक Single Variable न होकर Variables का समूह होता है जिन्हें Member Variables कहते है। Structure में प्रत्येक Member के लिए अलग-अलग मेमोरी Allocate होती है।

Syntax:

struct structure_name
{
	List of Members;
}structure_variables;

Example:

struct student
{
	char grade;
	int marks;
	float percent;
}s1;

Union Structure की तरह ही एक ऐसा Variable होता है जिसमें अलग-अलग टाईप के डेटा को स्टोर किया जा सकता है। किन्तु इसके डेटा को स्टोर करने का तरीका Structure से अलग होता है। जहाँ Structure आपने सारे Members को अलग-अलग मेमोरी Locations पर स्टोर करता है वही Union आपने सारे Members को एक ही मेमोरी Location पर स्टोर करता है। इसीलिए एक समय में इसके केवल एक Member को ही Access किया जा सकता है किन्तु Structure में हम एक ही समय में इसके सभी Members को Access कर सकते है। अतः Union का प्रयोग प्रोग्राम में तब किया जाता है जब एक समय में केवल एक ही Member को Access करने की जरूरत होती है।

Syntax:

union union_name
{
	List of Members;
}union_variable;

Example:

union u
{
	char c;
        int i;
	float f;
}u1;
Difference between structure and union in C in Hindi

Click here to find example program for structure

Click here to find example program for union

Share it to:

Difference between structure and union in C in Hindi

Structure एक ऐसा Variable होता है जिसमें एक समय में एक से अधिक डेटा को स्टोर किया जा सकता है। इसमें स्टोर डेटा Array की तरह एक ही टाईप के हो यह जरूरी नहीं होता है। इसे विशेष रूप से किसी Entity अर्थात् Student, Employee, Customer, Product, Transaction आदि से संबंधित अलग-अलग टाईप के डेटा को स्टोर करने के लिए बनाया गया है। इसीलिए Structure को अलग-अलग प्रकार के डेटा का Collection भी कहा जाता है। वास्तव में Structure एक Single Variable न होकर Variables का समूह होता है जिन्हें Member Variables कहते है। Structure में प्रत्येक Member के लिए अलग-अलग मेमोरी Allocate होती है।

Syntax:

struct structure_name
{

	List of Members;

}structure_variables;

Example:

struct student
{
	char grade;
	int marks;
	float percent;
}s1;

Union Structure की तरह ही एक ऐसा Variable होता है जिसमें अलग-अलग टाईप के डेटा को स्टोर किया जा सकता है। किन्तु इसके डेटा को स्टोर करने का तरीका Structure से अलग होता है। जहाँ Structure आपने सारे Members को अलग-अलग मेमोरी Locations पर स्टोर करता है वही Union आपने सारे Members को एक ही मेमोरी Location पर स्टोर करता है। इसीलिए एक समय में इसके केवल एक Member को ही Access किया जा सकता है किन्तु Structure में हम एक ही समय में इसके सभी Members को Access कर सकते है। अतः Union का प्रयोग प्रोग्राम में तब किया जाता है जब एक समय में केवल एक ही Member को Access करने की जरूरत होती है।

Syntax:

union union_name
{

	List of Members;

}union_variable;

Example:

union u
{
	char c;
        int i;
	float f;
}u1;
Difference between structure and union in C in Hindi

Click here to find example program for structure

Click here to find example program for union

Share it to:

Pointer to structure example program in C C++

Coding in C

#include<stdio.h>

struct student
{
    char grade;
    int marks;
    float percent;
};

int main()
{
    struct student std;
    struct student *ptr;
    ptr=&std;
    printf("Enter Grade   : ");
    scanf("%c",&std.grade);
    printf("Enter Marks   : ");
    scanf("%d",&std.marks);
    printf("Enter Percent : ");
    scanf("%f",&std.percent);
    printf("The Grade is  : %c",ptr->grade);
    printf("\nThe Marks is  : %d",ptr->marks);
    printf("\nThe Percent is: %f",ptr->percent);
    return 0;
}

Coding in C++

#include<iostream>
using namespace std;

struct student
{
    char grade;
    int marks;
    float percent;
};

int main()
{
    struct student std;
    struct student *ptr;
    ptr=&std;
    cout<<"Enter Grade    : ";
    cin>>std.grade;
    cout<<"Enter Marks    : ";
    cin>>std.marks;
    cout<<"Enter Percent  : ";
    cin>>std.percent;
    cout<<"The Grade is   : "<<ptr->grade<<endl;
    cout<<"The Marks is   : "<<ptr->marks<<endl;
    cout<<"The Percent is : "<<ptr->percent<<endl;
    return 0;
}

Output

Pointer to structure example program in C C++
Share it to: