What is Printer and Its Types in Hindi: प्रिंटर क्या है यह कितने प्रकार के होते हैं

What is printer in Hindi, प्रिंटर क्या है हिंदी में जाने: Printer एक ऐसी डिवाइस है जिसकी मदद से हम कंप्यूटर की स्क्रीन पर दिखने वाली photo, डाक्यूमेंट्स और text की हार्डकॉपी निकाल सकते हैं। आपको बता दें कि प्रिंटर कंप्यूटर के साथ इस्तेमाल होने वाली एक आउटपुट डिवाइस है जिससे आप किसी भी डाक्यूमेंट्स या photo का पेपर पर Print ले सकते हैं। प्रिंटर का इस्तेमाल ऑफिस में, फोटो स्टूडियो में, कंपनी में और सरकारी ऑफिस में किया जाता है। आपको बता दें कि अपने काम के अनुसार प्रिंटर कई तरह के होते हैं। आजकल मार्किट में बहुत सारी कंपनी हैं जो कई तरह के प्रिंटर बनाती है। प्रिंटर क्या है (What is Printer in Hindi) इस बारे में तो हम आपको बता ही चुकें हैं आइये हम आपको विभिन्न प्रकार के प्रिंटर और उनके उपयोग के बारे में बताएँगे।

What is Printer and Its Types in Hindi

प्रिंटर के प्रकार (Types of Printer in Hindi)

अपनी टेक्नोलॉजी और उपयोग के अनुसार प्रिंटर कई तरह के हो सकते हैं जिसके बारे में हमने नीचे जानकारी दी है.

लेजर प्रिंटर (laser printer in Hindi)

laser printer जैसा कि इसके नाम से ही समझ आता है इसमें कागज पर Print निकलने के लिए एक सेंट्रल लेजर बीम का इस्तेमाल किया है। लेजर प्रिंटर के अंदर एक बेलन के समान ड्रम लगा होता है जिसे फोटोरिसेप्टर कहा जाता है। बता दें कि इस फोटोरिसेप्टर पर से जब कागज होकर गुजरता है तो इस पर लेजर बीम को फायर किया जाता है। इस तरह से लेजर प्रिंटिंग मशीन फोटोरिसेप्टर पर photo या इमेज को Print करती है। लेजर प्रिंटर काफी fast होता है आप इससे तुरंत Print प्राप्त कर सकते हैं। लेजर प्रिंटर का इस्तेमाल किसी भी तरह के Text, Documents और Photo को निकलने के लिए किया जा सकता है।

यह एक तरह का इंकजेट प्रिंटर होता है जिसका इस्तेमाल किसी भी photo या image को photo paper पर निकलने के लिए किया जाता है। आपको बता दें कि इस प्रिंटर में इस्तेमाल किये जाने वाले कागज पर एक तरह की कोटिंग होती है जो कि Print करके लिए इस्तेमाल की जाने वाली इंक को धुंधला नहीं होने देता। फोटो प्रिंटिंग मशीन का इस्तेमाल मुख्य रूप से photo studio में किया जाता है। photo printer से सभी size की photo निकाली जा सकती है।

इसके अलावा photo printer का इस्तेमाल आप अपन documents, certificate को Print करने के लिए भी कर सकते हैं। इस प्रिंटर को आप अपने smartphone से कनेक्ट करके तुरंत photo निकल सकते हैं।

कलर प्रिंटर (color printer in Hindi)

कलर प्रिंटर ऐसे प्रिंटर होते हैं जिनसे आप एक से अधिक रंगों में Print निकाल सकते हैं। कलर प्रिंटर ज्यादातर मशीने CMYK कलर-मॉडल पर काम करती हैं। CMYK color model में 4 मूल रंग होते हैं जिनमे सियान, ब्लैक, येलो और मैजेंटा रंग के नाम शामिल हैं। इसके अलावा कुछ कम कीमत वाले कलर प्रिंटर भी जो Print निकलने में सिर्फ 3 मूल रंग पीला, सियान और मैजेंटा का इस्तेमाल करते हैं। इन सस्ते प्रिंटर की सबसे ख़राब बात यह होती है कि इस Print पर आप मूल काले रंग का Print नहीं ले पाते और अन्य रंग भी इसमें फ़ीके दिखाई देते हैं। कलर प्रिंटर का सबसे ज्यादा इस्तेमाल बुक, अखबार, और विभिन्न तरह की पत्रिकाओं की प्रिंटिंग में भी किया जाता है। आपको बता दें कि इस तरह के प्रिंटर भी दिए गए डाटा को तुरंत Print निकलने में सक्षम होते हैं।

डिजिटल प्रिंटर (digital printer in hindi)

डिजिटल प्रिंटर एक ऐसा Print होता है जिसे आप किसी भी डिजिटल फाइल फॉर्मेट से सीधे Print निकल सकते हैं। आपको जिस भी फाइल फॉर्मेट की इमेज जैसे ITFF, PDF, JPEG या नया किसी फॉर्मेट को Print करना है तो आप इसे सीधे प्रिंटर पर भेजकर Print निकाल सकते हैं। digital printer एक ऐसी मशीन होती है जिसमें प्रिंटिंग प्लेट की जरूरत होती जो कि ऑफसेट प्रिंटर में आवश्यक होती है। ये प्रिंटर फोटो पेपर, पेपर, फैब्रिक, कैनवास, कार्डस्टॉक पर Print निकाल सकते हैं।

इंकजेट प्रिंटर (inkjet printer in hindi)

इंकजेट प्रिंटर के लिए नियमित रूप से उपयोग किये जाते हैं। आपको बता दें कि इस तरह के प्रिंटर में पेपर पर Print निकलने के लिए एक खास तरह की सियाही का इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा इंकजेट प्रिंटर का इस्तेमाल हाई क्वालिटी वाले Print कलर Print निकलने के लिए भी किया जाता है। जरूरत पड़ने पर आप इस प्रिंटर से भी तुरंत Print निकल सकते हैं। ये मशीनें उन लोगों द्वारा पसंद की जाती हैं जिन्हें रोजाना नहीं बल्कि कभी कभी Print निकलने की जरूरत पड़ती है।इंकजेट प्रिंटर कई model में उपलब्ध होते हैं।

डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर (dot matrix printer or Impact printer in hindi)

आपको बता दें कि इस प्रिंटर को इम्पैक्ट मैट्रिक्स प्रिंटिंग ( Impact Matrix Printing) के रूप में भी जाना जाता है। डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर में स्याही को कागज/लेआउट की सतह पर लगाया जाएगा। डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर में पिन एक रिबन से टकराते हैं जिसमे इंक लगी होती है और यह रिबन और कागज के बीच संपर्क को मजबूर करता है। यह कागज पर इंक की मदद से डॉट बनता है और इन डॉट को संयुक्त होने पर अंतिम डॉट मैट्रिक्स इमेज बनाई जाती है। इस तरह के प्रिंटर ATM machine, PCO,  Railway station पर इस्तेमाल किया जाते हैं।

Read Also: What is Computer in Hindi

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *